नेपाल में भूकंप (earthquake) के कारण कई घर गिरे, अब तक 128 लोगों की मौत हुई है, और सैकड़ों घायल हुए हैं; प्रधानमंत्री प्रचंड ने अपनी दुखभावना जताई।

नेपाल में भूकंप के कारण कई घर गिरे, अब तक 128 लोगों की मौत हुई है, और सैकड़ों घायल हुए हैं; प्रधानमंत्री प्रचंड ने अपनी दुखभावना जताई।

नेपाल में भूकंप के कारण कई घर गिरे, अब तक 128 लोगों की मौत हुई है, और सैकड़ों घायल हुए हैं; प्रधानमंत्री प्रचंड ने अपनी दुखभावना जताई।
नेपाल में भूकंप के कारण कई घर गिरे, अब तक 128 लोगों की मौत हुई है, और सैकड़ों घायल हुए हैं; प्रधानमंत्री प्रचंड ने अपनी दुखभावना जताई।

 

पश्चिमी नेपाल में भयंकर भूकंप से अब तक 128 लोगों की मौत हो चुकी है और सैकड़ों लोग घायल हुए हैं। इस भूकंप से कई घरों का नुकसान हुआ है। नेपाली अधिकारी ने पुष्टि की है कि रुकुम पश्चिम में 35 से अधिक लोगों की मौत हो गई है, जबकि जाजरकोट जिले में 90 से अधिक लोगों की जान गई है। भूकंप के बाद से रेस्क्यू फोर्स बचाव अभियान में जुटी है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार रात करीब 11.30 बजे, नेपाल के पश्चिमी क्षेत्र में तेज भूकंप के झटके महसूस किए गए। इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.4 मापी है।

नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप मापन केंद्र के अधिकारियों के अनुसार, रात 11.47 बजे एक तीव्र भूकंप ने नेपाल में हलचल मचाई। इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.4 के माप के बराबर है। इस भूकंप का केंद्र जाजरकोट जिले में था, जिसकी गहराई ज़मीन के 10 किलोमीटर की नीचे थी। इस भूकंप के प्रभाव को भारत और चीन में भी महसूस किया गया है, और भारत में भी लगभग 40 सेकंड तक झटके महसूस किए गए हैं। काठमांडू में, नेपाल की राजधानी, और उसके आस-पास क्षेत्रों में भूकंप का तेज झटका महसूस किया गया। जाजरकोट कठमांडू से लगभग 500 किलोमीटर पश्चिम में स्थित है। इस भूकंप के झटके के साथ ही, काठमांडू में लोग अपने घरों से बाहर निकले और डरे सहमे दिखे। नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल प्रचंड ने इस भूकंप के कारण हुई जान-माल की क्षति पर अपनी दुखभावना व्यक्त की है। नेपाल के प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया है कि शुक्रवार रात 11.47 बजे जाजरकोट के रामीडांडा में हुए भूकंप से हुई मानवीय और घरों की क्षति पर गहरा दुख व्यक्त किया है। घायलों के तत्काल बचाव और राहत के लिए सभी तीन सुरक्षा एजेंसियों को तुरंत क्रियान्वित किया गया है। याद दिलाने वाला तथ्य है कि नेपाल में भूकंप का आना आम बात है, और वर्ष 2015 में एक 7.8 माग्निट्यूड का शक्तिशाली भूकंप आया था, जिसने पूरे देश को हिला दिया था। इस भूकंप में 12,000 से अधिक लोगों की मौत हुई थी और हजारों घरों का नुकसान हुआ था।

Click here to visit my website

24 thoughts on “नेपाल में भूकंप (earthquake) के कारण कई घर गिरे, अब तक 128 लोगों की मौत हुई है, और सैकड़ों घायल हुए हैं; प्रधानमंत्री प्रचंड ने अपनी दुखभावना जताई।”

  1. Excellent post. I used to be checking constantly this weblog and I’m
    inspired! Very useful information particularly
    the closing phase 🙂 I deal with such info a lot.
    I was seeking this certain information for a very long
    time. Thanks and good luck.

    Reply
  2. I’m amazed, I havce tto admit. Rarsly ddo I encounter a blog that’s oth equally edicative and amusing, andd wikthout a doubt, you’ve hit thhe naill on thee head.

    The issue is something nott enogh folks are speaking intelligently about.

    I’m vrry happy I found thhis in myy hunt for something relating to this.

    Reply
  3. Good day I am so glad I found your weblog, I
    really found you by error, while I was researching on Google for something else, Nonetheless I
    am here now and would just like to say thanks for a remarkable post and a all
    round thrilling blog (I also love the theme/design), I
    don’t have time to read through it all at the minute but I have book-marked it and also added in your RSS feeds, so when I have
    time I will be back to read a great deal more, Please do keep up
    the excellent job.

    Reply
  4. Hey just wanted to give you a quick heads up and let you know a few of the images aren’t loading properly.
    I’m not sure why but I think its a linking issue.
    I’ve tried it in two different web browsers and both show the same results.

    Reply
  5. Hey! I understand this is kind of off-topic but I needed to ask.
    Does building a well-established blog such as yours take a lot of work?
    I am completely new to blogging however I do write in my diary everyday.
    I’d like to start a blog so I will be able to share my experience and feelings online.
    Please let me know if you have any ideas or tips for new
    aspiring bloggers. Thankyou!

    Reply
  6. It’s the bet time to makke a feww plans for the longer terrm annd it’s time to be happy.
    I’ve reasd this putt uup and iff I may just I wih to recommend youu some fascinnating issuws oor tips.
    Maybge yoou could writfe next articles referring
    too this article. I dezire tto read een more thhings about it!

    Reply
  7. Greetings from Ohio! I’m bored at work so I decided to browse your website on my iphone during lunch
    break. I enjoy the knowledge you present here and can’t
    wait to take a look when I get home. I’m amazed at how quick your blog
    loaded on my mobile .. I’m not even using WIFI, just 3G
    .. Anyways, excellent site!

    Reply
  8. Your style is unique in comparison to other folks I have read
    stuff from. Many thanks for posting when you
    have the opportunity, Guess I will just bookmark this web site.

    Reply
  9. I just couldn’t depart your site prior to suggesting
    that I extremely loved the standard info a
    person supply in your visitors? Is going to be again regularly in order to investigate cross-check new posts

    Reply
  10. I’m more than happy to find this web site. I need to to thank you
    for ones time just for this wonderful read!!
    I definitely enjoyed every part of it and I have you book marked to see new information on your blog.

    Reply

Leave a Comment